अनुशासन सम्बंधी निर्देश:-

रैगिंग एक कानूनी अपराध है  रैगिंग करने बाले किसी भी छात्रा के विरुद्ध महाविद्यालय स्तर पर अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए उसे महाविद्यालय से निष्कासित किया जा सकता है तथा रैगिंग को

अपराध मानते हुए सम्बंधित छात्रध्छात्रा के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही भी की जाएगी द्य महाविद्यालय में छात्रा के उत्पीड़न एवं छेड़खानी की रोकथाम हेतु पूरा महाविद्यालय प्रशासन सजग एवं सतर्क

रहता है महाविद्यालय का पूरा शास्ता मंडल खाली वादनो में परिसर में भ्रमण पर रहता है द्य महाविद्यालय में प्रवेश के समय प्रवेश आवेदन पत्र के साथ संलंग्न अभ्यर्थी द्वारा रैगिंग सम्बन्धी शपथ पत्र तथा

अभिभावक द्वारा रैगिंग सम्बन्धी शपथ पत्र लगाना होता है

 

website designed by WEB EYE MASTER